what is thaat in music

थाट किसे कहते हैं What is Thaat in Music

इस अध्याय में आप सीखेंगे की थाट किसे कहते हैं और थाट कितने प्रकार के होते हैं. अगर आप हिन्दुस्तानी संगीत में रूचि रखते हैं तो ये अध्याय आपके लिए बहुत ही ज़रूरी है क्यूंकि यही हिन्दुस्तानी संगीत का आधार है.

थाट क्या है What is Thaat

थाट हिन्दुस्तानी संगीत में स्वरों को वर्गीकृत करने की एक प्रणाली है जिससे अलग अलग स्वरों की समूह रचना होती है. हर थाट से कई राग बनते हैं और सभी राग अलग अलग मेलोडी और भाव को प्रदर्शित करते हैं. जब आप १० थाट को समझ लेते हैं तो आपके लिए रागों को समझना बहुत आसान हो जाता है. आइये जान लेते हैं हिन्दुस्तानी संगीत के १० थाट कौन से हैं.

हिन्दुस्तानी संगीत के १० थाट 10 Thaat in Indian Classical Music

१. बिलावल Bilawal Thaat

बिलावल थाट में सारे स्वर शुद्ध लगते हैं.

आरोह : सा रे ग म प ध नी सा’

अवरोह : सा’ नी ध प म ग रे सा

२. कल्यान Kalyan

कल्यान थाट में तीव्र लगता है बाकी सभी स्वर शुद्ध लगते हैं. इस थाट से यमन राग की उत्पति हुई है जो एक महत्वपूर्ण राग है.

आरोह : सा रे ग म (तीव्र) प ध नी सा’

अवरोह : सा’ नी ध प म(तीव्र) ग रे सा

३. खमाज Khamaj

खमाज थाट में सारे स्वर शुद्ध लगते हैं और नी कोमल लगता है.

आरोह : सा रे ग म प ध नी (कोमल) सा’

अवरोह : सा’ नी(कोमल) ध प म ग रे सा

४. काफ़ी Kafi

काफी थाट में ग और नी कोमल लगते हैं बाकी सभी शुद्ध स्वर लगते हैं.

आरोह : सा रे ग(कोमल) म प ध नी(कोमल) सा’

अवरोह : सा’ नी(कोमल) ध प ग (कोमल) म रे सा

५. भैरव Bhairav

भैरव थाट में रे और कोमल स्वर लगते हैं बाकी सभी शुद्ध स्वर होते है.

आरोह : सा रे(कोमल) ग म प ध (कोमल) नी सा’

अवरोह : सा’ नी ध (कोमल) प म ग रे (कोमल) सा

६. मारवा Marwa

मारवा थाट में रे कोमल लगता है, तीव्र लगता है और बाकी सभी शुद्ध स्वर लगते हैं

आरोह : सा रे (कोमल) ग म (तीव्र) प ध नी सा’

अवरोह : सा’ नी ध प म (तीव्र) ग रे (तीव्र) सा

७. असावरी Asavari

असावरी थाट में ग, ध और नी कोमल लगते हैं बाकि सभी शुद्ध स्वर लगते हैं.

आरोह : सा रे ग (कोमल) म प ध (कोमल) नी (कोमल) सा’

अवरोह : सा’ नी (कोमल)(कोमल) प म ग (कोमल) रे सा

८. भैरवी Bhairvi

भैरवी थाट में रे, ग, ध, नी कोमल स्वर लगते हैं बाकी सभी स्वर शुद्ध होते हैं.

आरोह : सा रे (कोमल) ग (कोमल) म प ध (कोमल) नी (कोमल) सा’

अवरोह : सा’ नी (कोमल)(कोमल) प म ग (कोमल) रे (कोमल) सा

९. पूरवी Purvi

पूरवी राग में रे, ध कोमल लगते हैं, म तीव्र लगता है और बाकी सभी स्वर शुद्ध लगते हैं

आरोह : सा रे (कोमल) ग म (तीव्र) प ध (कोमल) नी सा’

अवरोह : सा’ नी ध (कोमल) प म (तीव्र) ग रे (कोमल) सा

१०. तोड़ी Todi

तोड़ी राग में रे, ग, ध कोमल स्वर लगते हैं. म तीव्र लगता है और बाकी सभी स्वर शुद्ध लगते हैं.

आरोह : सा रे (कोमल) ग (कोमल) म (तीव्र) प ध (कोमल) नी सा’

अवरोह : सा’ नी ध (कोमल) प म (तीव्र) ग (कोमल) रे (कोमल) सा

आज आपने हिन्दुस्तानी शाष्त्रीय संगीत के १० थाट के बारे में जाना. इसी प्रकार के हिन्दुस्तानी संगीत पद्धति के बारे में और पढने के लिए हमें सब्सक्राइब करें और हमारे विडियो देखने के लिए हमारे YouTube चैनल पर जायें. अगर आपके मन में कोई सवाल है तो आप हमें कमेंट में पूछ सकते हैं.

4 thoughts on “थाट किसे कहते हैं What is Thaat in Music”

  1. Pingback: Raag Darbari | राग दरबारी आरोह अवरोह - Famenest School

  2. Pingback: Raag Bhairav Ka Parichay राग भैरव - Famenest School - online music classes

  3. Pingback: Raag Bhairavi भैरवी राग का परिचय - Famenest School - online music classes

  4. Pingback: राग भूपाली Raag Bhupali Ka Parichay - Famenest School - online music classes

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Newsletter Signup

Subscribe to our newsletter below and never miss the latest music lessons.